मिथिला दर्शन नवम्बर- 2018

एहि अंक में रवीन्द्र नारायण मिश्रक निबंध यूरोप यात्रा (द्वितीय भाग) प्रस्तुत अछि - एकरा जत्तपढ़बै ततेक नीक लागत। मनमोहना रे - पद्मश्री उषाकिरण खानक नब उपन्यास अछि जे एहि अंक सँ आरंभ भेल अछि। स्वर्गीय राजकमल चौधरीक क्लासिक कथा ‘बाबा साहेबक…

मिथिला दर्शन सितंबर-2018

एहि अंकक मुख्य आकर्षण भेल बतकही। एहि स्तंभ मे श्री योगेन्द्र पाठक वियोगीक मौसम विज्ञान पर आधारित लेख - पानि एलै बुन्नी एलै पाठकक लेल उपस्थित अछि। श्री वियोगी विशिष्ट वैज्ञानिक छथि आ हालहि मे भाभा एटमिक रिसर्च सेन्टर (एॠङक्) सँ अवकाश…